नीम जूस के फायदे तथा उपयोग – Benefits Of Neem Juice

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी नीम जूस के फायदे तथा उपयोग – Benefits Of Neem Juice आइये जानते है।

यह भी पढ़ेZandu Neem फायदे तथा उपयोग Zandu Neem in Hindi

नीम का पेड़ और इसके औशधीय गुण भारतीय चिकित्सा पद्धति के लिए एक आदर्श है क्योकि नीम के पेड़ को आयुर्वेदिक औषधि का खजाना माना जाता है और इसका उपयोग कई समस्याओ की बीमारियों के इलाज मे सहायता प्रदान करता है। नीम का चिकित्स्कीय उपयोग आज से नहीं बल्कि प्राचीतम समय से उपयोग हो रहा है और इसे बहुत सी दवाओं के रूप मे काम मे लिया जाता है। हेलो फ्रैंड्स कैसे है आप सभी उम्मीद करती हूँ की अच्छे ही होंगे तो आज के इस पोस्ट के अंतर्गत हम बात करेंगे नीम जूस के फायदे तथा उपयोग – Benefits Of Neem Juice की यह नीम का जूस हमारे स्वस्थ शरीर के लिए कैसे और कितना अधिक लाभदायी और फायदेमन्द है तथा इसे किस -किस प्रकार से उपयोग मे लिया जा सकता है।

यह भी पढ़ेDabur Giloy Neem Juice with Tulsi फायदे तथा उपयोग – Dabur Giloy Neem Juice with Tulsi in Hindi

नीम से जुडी कुछ जानकारी –

1 ) वानस्पतिक नाम (azadirachta – indica )
2 ) संस्कृत नीम -अरिस्टा

नीम क्या है -What Is Neem

नीम न केवल इसकी पत्तियां, बल्कि पेड़ के बीज, जड़ों और छाल में भी महत्वपूर्ण यौगिक होते हैं जिनमें कई औषधीय और सौंदर्य गुण होते हैं। नीम के पेड़ मे हमारे आयुर्वेद में ‘अच्छे स्वास्थ्य’ को बनाये रखने के गुण पाए गए है। नीम के पत्तों में 130 से अधिक विभिन्न प्रकार के जैविक यौगिक होते हैं, जैसे कि निंबिन, निमान्डियल जो शरीर को ठीक करने और स्वस्थ रहने को बढ़ावा देने में मदद करते हैं।आयुर्वेदिक चिकित्सा में, नीम का अर्क लंबे समय से अस्थमा, कब्ज, खांसी, मधुमेह, गैस्ट्रिक अल्सर, अपच, पेरियोडोंटल रोग और मूत्र पथ के संक्रमण सहित कई स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों को जड़ से खत्म करने मे उपयोग किया जाता है।

यह भी पढ़ेHealth Benefits Of Neem leaves in Hindi -नीम के क्या फयदे है

नीम के रस और पत्तियों के औषधीय गुण

जैसा की मैंने आपको बताया की नीम केवल पेड़ मात्र ही नहीं बल्कि इसकी पत्तियाँ,पेड़ के बीज, जड़ों और छाल सभी गुणों से भरपूर है तो आइये जानते है इनमे क्या -क्या गुण पाए जाते है –

  • नीम की पत्ती का उपयोग –कुष्ठ रोग, नेत्र विकार, खूनी नाक, आंतों के कीड़े, पेट खराब, भूख न लगना, त्वचा के अल्सर, हृदय और रक्त वाहिकाओं के रोगों (हृदय रोग), बुखार, मधुमेह, मसूड़ों की बीमारी (मसूड़े की सूजन), और यकृत इत्यादि बीमरियों के इलाज मे इसका उपयोग किया जाता है।
  • फूल का उपयोग –इसके फूल का उपयोग पित्त को कम करने, कफ को नियंत्रित करने और आंतों के कीड़े के इलाज के लिए किया जाता है।
  • छाल का उपयोग –मलेरिया, पेट और आंतों के अल्सर, त्वचा रोग, दर्द और बुखार के लिए किया जाता है।
  • बीज का उपयोग –बवासीर, आंतों के कीड़े, मूत्र पथ के विकार, खूनी नाक, कफ, नेत्र विकार, मधुमेह, घाव और कुष्ठ रोग के लिए किया जाता है।

नीम की टहनी –खांसी, दमा, बवासीर, आंतों के कीड़े, कम शुक्राणु स्तर, मूत्र विकार, और मधुमेह के लिए उपयोग की जाती है।
तना, जड़ की छाल और फल का उपयोग टॉनिक के रूप मे किया जाता है।
नीम का उपयोग कीटनाशक के रूप में भी किया जाता है।

यह भी पढ़ेKhadi Neem Sat Shampoo Benefits And Review in Hindi-खाड़ी नीम सत शैम्पू के क्या फायदे है

Related Post

नीम जूस के फायदे – Benefits Of Neem Juice

नीम के पौधे की पत्तियों से निकाला गया नीम का रस बेहतर स्वास्थ्य के लिए ढेरो लाभ प्रदान करता है। नीम का रस किसी भी बीमारी के इलाज मे प्राकर्तिक इलाज के रूप मे बहुत ही कॉमन है। जिसका इस्तेमाल डेंगू बुखार जैसी कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है।

जैसा की आप सभी जानते ही होंगे की डेंगू बुखार एक मच्छर से होने वाला वायरल संक्रमण है जो फ्लू जैसी बीमारी का कारण बनता है, और इस जैसी बीमारी का कोई विशेष इलाज भी नहीं है बस कुछ दवाये या तरल पदार्थ पीना ही इस समस्या का हल है ,हां अगर आप घरेलु इलाज अपनाये तो आपको काफी आराम मिल सकता है जैसे की नीम के पत्ते और पपीता – जो डेंगू के लक्षणों का इलाज या राहत देने में मदद कर सकते हैं तो इस प्रकार से नीम का रस बहुत ही अधिक हेल्पफुल है तो आइये जानते है नीम रस के अन्य क्या -क्या गुण है –

1 ) एंटी-फंगल गुण –नीम के रस मे शरीर को फंगल संक्रमणों से बचाने के गुण पाए जाते है और इससे हम बी=विभिन्न संक्रमण से बच सकते है।

2 ) नीम रस सर्दी और खांसी के इलाज मे सहायक –सर्दी और खांसी की समस्या को दूर करने मे भी नीम जूस काफी अधिक फायदेमंद होता है। नीम में मौजूद एंटी-वायरल गुण सर्दी -खासी की समस्या को कम करने में सहायक है।

3 ) वजन घटाने मे सहायक –नीम के अर्क में टैनिन पाया जाता है, जो वजन नियंत्रण में कुछ हद तक मददगार हो सकता है।

4 ) नीम रस प्राकर्तिक टूथब्रश के रूप मे उपयोगी –नीम की टहनी चबाना एक सदियों पुरानी भारतीय परंपरा है। भारतीय घरों में, लोग नीम की टहनी का उपयोग करके अपने दांतों को ब्रश करते थेऔर आज भी करते है। नीम टहनी का रस सभी प्रकार के दंत संक्रमण और बीमारियों को दूर रखता है।

5 ) नीम जूस कैंसर इलाज मे सहायक –नीम कैंसर-रोधी लाभ प्रदान कर सकता है, जिसमें प्रतिरक्षा-उत्तेजक और ट्यूमर-विरोधी गुण शामिल हैं।

  • 6) डेंगू इलाज मे सहायक – नीम के रस का सेवन डेंगू से पीड़ित लोगों में रक्त प्लेटलेट काउंट और श्वेत रक्त कोशिका (फाइटर सेल) दोनों को बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  • नीम का रस शरीर को विभिन्न संक्रमणों से लड़ने में भी मदद कर सकता है।
  • नीम एक शक्तिशाली इम्यून-बूस्टिंग हर्ब है जिसका उपयोग कई स्वास्थ्य स्थितियों के इलाज के लिए किया जाता है।
  • नीम का जूस बाल और स्किनकेयर मे भी एक जड़ी -बूटी का काम करता है।
  • नीम के पौधे में मजबूत एंटीऑक्सिडेंट होते हैं और नीम मे रोगाणु दूर करने और कई प्रकार के बैक्टीरिया, वायरस और कवक से बचाने में मदद कर सकता है।

नीम का रस कैसे बनाये और कैसे उपयोग करे -How to make and use neem Juice

नीम एक आयुर्वेदिक दवाई है, जिसके कई सारे स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक फायदे हैं। नीम का रस बहुत कडुआ होता है, जिसे पीना बहुत मुश्किल होता है। अगर आपको इसके फायदे चाहिए तो आइये जानते है इसे कैसे बनाये और कैसे उपयोग करे –

नीम जूस बनाने की विधि –

  • ताजी नीम की पत्तियाँ लें और उन्हें पानी मे अच्छे से धो ले।
  • एक ब्लेंडर में नीम की पत्तियां डालें और इसमें 1 कप पानी डालें और अधिक स्वादिष्ट बनाने के लिए आप शहद और नींबू के रस को इसमें मिक्स कर लीजिये ,तो यह तो हुई बनाने की विधि पूरी आइये अब जानते है की इसका उपोयग कब करे।
  • नीम के जूस को सुबह खाली पेट पीना अधिक फायदेमंद बताया गया है।

विशेष नोट -जैसा की आप सभी जानते है की हर चीज़ के अपने फायदे होते है तो उसके नुकसान भी होते है तो आप नीम जूस का जरूर उपयोग कीजिये किन्तु अगर आपको इससे किसी भी प्रकार शारीरिक समस्या हो तो आप इसका उपयोग ना करे या तो फिर अपने निजी चिकित्सक से संपर्क करके ही इसका सेवन करे। Health Benefits Of Neem leaves in Hindi -नीम के क्या फयदे है

नीम एक आयुर्वेदिक दवाई है और इसका सेवन हमे बहुत से स्वास्थ्यवर्धक लाभ प्रदान कर सकता है , तो दोस्तों आज के इस पोस्ट के अंतर्गत मैंने आपको बताया की नीम जूस के फायदे तथा उपयोग – Benefits Of Neem Juice तथा इससे सम्बंधित पूर्णरूप से जानकारी दी है किन्तु फिर भी अगर आपको इसमें कुछ नहीं समझ आता है या इससे रिलेटेड कुछ और डिटेल्स जानना चाहते है तो आप मुझे comment बॉक्स मे जरूर से कमेंट करिये मैं आपके सवालो के जवाब दूंगी और मेरे साथ जुड़े रहने के लिए मेरे , आज के इस पोस्ट को अपनी family और friends के साथ जरूर शेयर कीजिये, और उम्मीद करुँगी की आप मेरा पोस्ट जरूर पढ़ेंगे ।

admin

Recent Posts

हिमालया यष्टिमधु टैबलेट के फायदे तथा उपयोग -Himalaya Yashtimadhu Tablet Benefits And Uses In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी हिमालया यष्टिमधु टैबलेट के फायदे तथा उपयोग -Himalaya…

6 days ago

हिमालया स्ट्रेस रिलीफ आयल के फायदे तथा उपयोग -Himalaya Stress Relief Massage Oil Benefits And Uses In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी हिमालया स्ट्रेस रिलीफ आयल के फायदे तथा उपयोग…

1 week ago

हिमालया हिमकोलिन जेल के फायदे तथा उपयोग -Himalaya Herbals Himcolin Gel Benefits And Uses In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी हिमालया हिमकोलिन जेल के फायदे तथा उपयोग -Himalaya…

1 week ago

हिमालया तुलसी शोप के फायदे तथा उपयोग -Himalaya Tulsi Soap Benefits And Uses In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी हिमालया तुलसी शोप के फायदे तथा उपयोग -Himalaya…

2 weeks ago

हिमालया अश्वगंधा टैबलेट के फायदे तथा उपयोग -Himalaya Ashwagandha Tablets Benefits In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी हिमालया अश्वगंधा टैबलेट के फायदे तथा उपयोग -Himalaya…

2 weeks ago

हिमालया हर्बोलेक्स टैबलेट के फायदे तथा उपयोग -Himalaya Herbolax Tablets Benefits In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी हिमालया हर्बोलेक्स टैबलेट के फायदे तथा उपयोग -Himalaya…

3 weeks ago

This website uses cookies.