Categories: Aayurvedic Nuskhe

Dabur Agastya Haritaki Avaleha के फायदे तथा उपयोग -Dabur Agastya Haritaki Avaleha in Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo।in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Dabur Agastya Haritaki Avaleha के फायदे तथा उपयोग -Dabur Agastya Haritaki Avaleha in Hindi आइये जानते है।

यह भी पढ़े –Dabur Nature Care Double Action के फायदे तथा उपयोग -Dabur Nature Care Double Action in Hindi

अगस्त्य हरितकी को अगस्त्य रसायण के रूप में भी जाना जाता है। हेलो फ्रैंड्स आज के इस पोस्ट के अंतर्गत हम बात करेंगे Dabur Agastya Haritaki Avaleha से सम्बंधित की यह दवा अस्थमा और ब्रोंकाइटिस के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा हमारे लिए किस प्रकार से सहायक है तथा इसे किस प्रकार से उपयोग करे ,इसके फायदे और इसमें शामिल सामग्री से सम्बंधित जो भी जानकारी है वो आपको मैं आज के इस पोस्ट के माध्यम से बताउंगी ,तो आइये सबसे पहले यह जान लेते है की डाबर अगस्त्य हरिताकी अवलेह दवा क्या है।

यह भी पढ़े –Dabur Active Antacid के फायदे तथा उपयोग -Dabur Active Antacid in Hindi

डाबर अगस्त्य हरिताकी अवलेह क्या है -What is Dabur Agastya Haritaki Avaleha

डाबर द्वारा उत्पादित यह अर्ध ठोस पेस्ट है तथा यह आयुर्वेदिक दवा अस्थमा और ब्रोंकाइटिस के लिए फायदेमन्द है। अगस्त्य हरितकी फेफड़ों के लिए एक अच्छा दवा है। यह दवा मुख्य रूप से उन लोगो के लिए है जिनकी स्वास अधिक फूलती हो तथा यह दवा मुख्य रूप से सामान्य सर्दी, एलर्जी राइनाइटिस, क्रोनिक साइनस संक्रमण (साइनसाइटिस), सभी अंतर्निहित कारणों से खांसी, अस्थमा और हिचकी में सहायक है। Dabur Agastya अस्थमा जैसी गंभीर बीमारी को ठीक करने के लिए एक आयुर्वेदिक औषधि के मुख्य आधार के रूप में हरिताकी के साथ तैयार किया गया। यह दवा श्वसन संबंधी कई रोगों में व्यापक रूप से उपयोग की जाती है।

यह भी पढ़े –Dabur Trifgol के फायदे तथा उपयोग -Dabur Trifgol review in Hindi

डाबर अगस्त्य हरिताकी अवलेह क्यों-Why Dabur Agastya Haritaki Avaleha?

  • 100% शुद्ध और प्राकृतिक
  • अस्थमा और ब्रोंकाइटिस के इलाज में मददगार
  • सांस की तकलीफ कम करता है।

यह भी पढ़े –Dabur Abhyarishta के फायदे तथा उपयोग -Dabur Abhyarishta in Hindi

डाबर अगस्त्य हरितकी अवलेह के लाभ -Benefits of Dabur Agastya Haritaki Avaleha

अगस्त्य हरितकी श्वसन संबंधी पुरानी समस्याओं में उपयोगी है। यह साँस लेने में आसानी करता है,अस्थमा के अटेक को कम करता है और फेफड़ों को शक्ति प्रदान करता है तो आइये इसके फायदों के बारे मे डिटेल मे जानकारी जानते है –

ब्रोंकाइटिस ( Bronchitis) – अगस्त्य हरितकी ब्रोंकाइटिस में, यह ब्रोन्कियल नलियों की परत की सूजन को कम करने मे मदद करता है ,यह थकान, हल्का बुखार और सांस की तकलीफ और ब्रोंकाइटिस से जुड़ी छाती की तकलीफ को भी कम करता है। इसमें म्यूकोलाईटिक क्रिया भी होती है, जो बलगम को कम गाढ़ा बनाने में मदद करती है और गाढ़ा बलगम को इस दवा के लेने से कम किया जा सकता है। जड़ी बूटियों का उपयोग ब्रोंकाइटिस के इलाज के लिए किया जा सकता है।

अस्थमा और साँस लेने में कठिनाई को कम करने मे सहायक -Asthma & Breathing Difficulty

कई लोगों को रात में सांस लेने में तकलीफ या खांसी होती है, जो सोने में परेशानी करती है। ऐसे स्तिथि में अगस्त्य हरितकी लाभदायी है। यह दवा उन सभी लोगो के लिए गुणकारी है जो अस्थमा और एलर्जी से पीड़ित हैं। यह फेफड़ों को ताकत प्रदान करता है और अस्थमा के हमलों को कम करता है। जब रोगी को लगातार साँस लेने में तकलीफ होती है, तो इसका उपयोग लक्षणों और उनकी तीव्रता को कम करने के लिए यह डाबर की आयुर्वेदिक दवा बहुत अधिक लाभदायी है। अचर्यर्थेस एस्पेरा, अल्बिजिया लेबेबेक और पाइपर लोंगम जड़ी बूटियों का उपयोग अस्थमा के इलाज के लिए किया जा सकता है।

Related Post

खांसी -Cough –अगस्त्य हरितकी का उपयोग खांसी के लिए एक सामान्य दवा के रूप में किया जा सकता है। यह सूखी खासी लगातार या पुरानी खांसी में भी मदद करता है, लेकिन इसे ऐसे मामलों में गर्म दूध के साथ लेना चाहिए। यह सूजन, जलन को कम करता है और कफ से राहत प्रदान करता है।

एलर्जी राइनाइटिस (तेज़ बुखार ) को कम करने मे सहायक -Allergic Rhinitis (Hay Fever)

  • अगस्त्य हरितकी मे शामिल सामग्री एलर्जी राइनाइटिस में छींकने, बहती नाक, साइनस दबाव को कम करने में मदद करता है। इस दवा मे एंटी-एलर्जिक गुण होते है, जो घास के बुखार के लक्षणों को कम करने में मदद करती है।
  • यह कफ के कारण होने वाली समस्या को ठीक करता है।
  • यह नींद में सुधार करता है।
  • यह वीर्य को गाढ़ा करता है।
  • यह बहुत पौष्टिक होता है।
  • यह वजन, चमक और पाचन में सुधार करता है।
  • यह कब्ज से राहत देता है।
  • यह मस्तिष्क, नसों, आंखों, मलाशय और शरीर के अन्य अंगों को ताकत देता है।

यह भी पढ़े –Dabur Lal Tail के फायदे तथा उपयोग -Dabur Lal Tail in Hindi

डाबर अगस्त्य हरिताकी के संकेत -Indications of Dabur Agastya Haritaki

  • डाबर अगस्त्य हरिताकी अवलेहा एक आयुर्वेदिक हर्बल औसधि के रूप मे है जिसे की निम्न बीमारियों के संकेतो के अनुसार लिया जा सकता है –
  • खांसी
  • साँस लेने में कठिनाई और अस्थमा
  • ब्रोंकाइटिस
  • सामान्य जुकाम
  • एलर्जी रिनिथिस
  • बवासीर
  • क्रोनिक साइनस संक्रमण (साइनसाइटिस)
  • हिचकी
  • तेज़ बुखार
  • खाने की इच्छा में कमी
  • शारीरिक कमजोरी
  • बालों का समय से पहले सफ़ेद होना
  • झुर्रियाँ कम करने मे सहायक

डाबर अगस्त्य हरितकी अवलेह की सामग्री -Ingredients of Dabur Agastya Haritaki Avaleha

डाबर अगस्त्य हरितकी अवलेह मे औशधीय गुणों से भरपूर शामिल सामग्री कुछ निम्न प्रकार से है

  • बिल्व
  • श्योनक
  • गंभारी (बीच की लकड़ी / कसमारी
  • पाताल
  • अग्निमांथा
  • शालपर्णी
  • प्रिश्निपर्णी
  • बृहति
  • कान्तकारी
  • गोक्षुरा (पीएल)
  • उरारिया चित्र
  • कौंच के बीज
  • शंखपुष्पी
  • शती (कपूर कचरी)
  • बाला
  • गजपीपल
  • अपामार्ग
  • पिप्पली
  • (लंबी काली मिर्च) जड़
  • चित्रक
  • भारंगी
  • पुष्करमूल
  • जौ (जौ अनाज)
  • टर्मिनलिया चेबुला – हरिताकी

काढ़े बनाने के लिए निम्न सामग्रियाँ

  • पानी
  • गाय का घी
  • तिल का तेल
  • गुड़
  • पिप्पली
  • फल
  • शहद

डाबर अगस्त्य हरिताकी अवलेहा की खुराक -The Dosage of Dabur Agastya Haritaki Avaleha

  • यह दवा 2- 4 चम्मच दिन मे 2 बार दूध या गुनगुने पानी के साथ ले।
  • चिकित्सक से परामर्श के पश्चात् ले।
  • आप इस दवा को ऑनलाइन या मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हैं।
  • यह दवा बैद्यनाथ (अगस्त्य हरिताकी), डाबर (अगस्त्य हरितायवलेहा), झंडू (अगस्त्य हरिताकी अवलेहा), और कई अन्य आयुर्वेदिक कंपनियों दवारा बनायीं गयी है।

डाबर अगस्त्य हरितकी अवलेह के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न-Frequently asked Questions about Dabur Agastya Haritaki Avaleha

1 ) अगस्त्य हरितकी क्या है?
अगस्त्य हरितकी दवा श्वसन समस्याओं के लिए बहुत प्रसिद्ध आयुर्वेदिक दवा है। यह अस्थमा में बहुत उपयोगी है।

2 ) क्या यह आम सर्दी -जुखाम ठीक करने में सहायक है ?
यह डाबर दवा प्राकृतिक अवयवों के साथ मिश्रित है, यह आम सर्दी, एलर्जी राइनाइटिस, क्रोनिक साइनस संक्रमण (साइनसिसिस), खांसी के इलाज सभी में सहायक है ।

3 ) क्या डाबर अगस्त्य हरितकी अवलेह का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?
अपने डॉक्टर से इसके बारे में सलाह करें।

4 )क्या डाबर अगस्त्य हरितकी अवलेह का उपयोग स्तनपान की अवधि के दौरान सुरक्षित है?
अपने डॉक्टर से इसके बारे में सलाह ले।

5 ) अगस्त्य हरितकी का उपयोग क्या है?
अगस्त्य हरितकी के औषधीय उपयोग यह श्वसन संबंधी पुरानी समस्याओं को ठीक करने मई सहायक है।

विशेष नोट –डाबर अगस्त्य हरितकी का तथा इस वेबसाइट पर बताये गए किसी भी प्रोडक्ट्स का इस्तमाल अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही करे |

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट के अंतर्गत मैंने आपको बताया की Dabur Agastya Haritaki Avaleha के फायदे तथा उपयोग -Dabur Agastya Haritaki Avaleha in Hindi तथा इससे सम्बंधित पूर्णरूप से जानकारी दी है किन्तु फिर भी अगर आपको इसमें कुछ नहीं समझ आता है या इससे रिलेटेड कुछ और डिटेल्स जानना चाहते है तो आप मुझे comment बॉक्स मे जरूर से कमेंट करिये मैं आपके सवालो के जवाब दूंगी और मेरे साथ जुड़े रहने के लिए मेरे , आज के इस पोस्ट को अपनी family और friends के साथ जरूर शेयर कीजिये, और उम्मीद करुँगी की आप मेरा पोस्ट जरूर पढ़ेंगे ।

Sonal Sharma

सोनल Hindiinfo.in की एक अच्छी लेखिका है जिन्हे सेहत , मनोरंजन और घरेलु नुस्खों के बारे में लिखना और पढ़ना पसंद है ।

Recent Posts

Himalaya AyurSlim Capsules Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya AyurSlim Capsules Review In Hindi आइये जानते…

1 day ago

Himalaya Tulasi Tablet Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya Tulasi Tablet Review In Hindi आइये जानते…

2 days ago

Himalaya Foot Care Cream Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya Foot Care Cream Review In Hindi आइये…

4 days ago

Himalaya Ophthacare Eye Drops Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya Ophthacare Eye Drops Review In Hindi आइये…

1 week ago

माइग्रेन के लिए आयुर्वेदिक दवा – Aayurvedic Medicine For Migraine

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी माइग्रेन के लिए आयुर्वेदिक दवा - Aayurvedic Medicine…

1 week ago

Benefits Of Tulsi In Hindi -तुलसी के फायदे तथा उपयोग

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Benefits Of Tulsi In Hindi -तुलसी के फायदे…

2 weeks ago

This website uses cookies.