Categories: Aayurvedic Nuskhe

Dabur Khadiradi Gutika के फायदे तथा उपयोग -Dabur Khadiradi Gutika in Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo।in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Dabur Khadiradi Gutika के फायदे तथा उपयोग -Dabur Khadiradi Gutika in Hindi आइये जानते है।

यह भी पढ़े –Dabur Honitus Cough Syrup के फायदे तथा उपयोग -Dabur Honitus Cough Syrup review in Hindi

,हेलो फ्रैंड्स आज के इस पोस्ट के अंतर्गत हम बात करेंगे Dabur Khadiradi Gutika से सम्बंधित की यह डाबर खादिरडी गुटिका आयुर्वेदिक दवा गले में खराश और खांसी को कम करने मे किस प्रकार से सहायक है तथा इस दवा के और क्या फायदे और उपयोग है इसके बारे मे डिटेल मे बात करेंगे तो आइये जानते है।

यह भी पढ़े –Dabur Babool Toothpaste के फायदे तथा उपयोग -Dabur Babool Toothpaste review in Hindi

डाबर खदिरादि गुटिका क्या है -What is Dabur Khadiradi Gutika

खादिरादि गुटिका एक टैबलेट है, जिसका उपयोग खांसी, जुकाम और अन्य श्वसन स्थितियों के आयुर्वेदिक उपचार में किया जाता है। यह खादीधारी वटी नामक दवा अन्य उत्पाद से अलग है, जो मुख्य रूप से मौखिक रोगों के लिए उपयोग की जाती है। बहुत से लोग अधिकतर समय गले में खराश, स्टामाटाइटिस और खांसी की समस्याओं से पीड़ित रहते है अगर आप मे से किसी को भी ऐसी समस्या है तो इसके स्थायी इलाज के लिए के लिए डाबर खादिरडी गुटिका का एक बार अवश्य उपयोग करे। यह गले में खराश और खांसी के लिए डाबर की मुख्य दवाओं मे से एक है जो की खादी सर, पुष्कर मूल, करकट श्रृंगी और कत्थला सहित बहुत से औषधीय पौधों का उपयोग करके बनायीं गयी है। इसका नियमित उपयोग गले से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या से छुटकारा दिलाने में सहायक होगा और आपको स्वस्थ जीवन शैली का लाभ देगा।

यह भी पढ़े –Dabur Abhyarishta के फायदे तथा उपयोग -Dabur Abhyarishta in Hindi

डाबर खदिरादि गुटिका के फायदे -Benefits Of Dabur Khadiradi Gutika

खादिरादि वटी मुख्य रूप से गले की खराश और गले की जलन को कम करने के लिए उपयोगी है। इसके कुछ महत्वपूर्ण लाभ और औषधीय उपयोग इस प्रकार हैं –

  • खादिरादि वटी (गुटिका) एक आयुर्वेदिक और हर्बल उपचार है।
  • डाबर खदिरादि गुटिका का उपयोग मुंह के छाले, ग्रसनीशोथ (गले में खराश) और दांतों, मसूड़ों, जीभ और गले के दर्द को खत्म करने इत्यादि रोगों के लिए किया जाता है।
  • खादिरादि वटी मौखिक एंटीसेप्टिक ,गले की खराश और कफ को कम करने के रूप में कार्य करती है। इसलिए, यह विशेष रूप से गले में खराश और टॉन्सिलिटिस या टॉन्सिल के संक्रमण को कम करने मे सहायक है।
  • एंटी माइक्रोबियल
  • सूजन कम करने मे सहायक
  • यह दवा वात के साथ-साथ कफ को भी खत्म करने मे सहायक है।

यह भी पढ़े –Dabur Trifgol के फायदे तथा उपयोग -Dabur Trifgol review in Hindi

खादिरादि वटी के आयुर्वेदिक / औषधीय गुण- Medicinal Properties


खादिरादि वटी के आयुर्वेदिक / औषधीय गुण निम्न है

  • सूजन कम करने मे सहायक
  • एंटी माइक्रोबियल
  • एंटीऑक्सीडेंट
  • एंटीसेप्टिक
  • गले मे होने वाले संक्रमण और घावों को भरने के लिए इस दवा मे हीलिंग गुण होते हैं।

गले मे घराश की वजह से आवाज़ मे बदलाव – यह दवा अपने एंटी माइक्रोबियल गुणों की वजह से गले की सूजन को कम करती है और स्पष्ट आवाज प्रदान को पुनः करती है।


मुंह के छाले- खादिरादि वटी मुंह के छाले और पेट का दर्द से जुड़ी दर्द और जलन को कम करती है।


गले में खराश ( Sore Throat ) –खदिरादि वटी लेने से गले की खराश में शीघ्र राहत मिलती है।इसके अतिरिक्त, खादिरादि वटी बैक्टीरिया के विकास को भी रोकता है, जो गले में खराश का कारण हो सकता है।

Related Post


टॉन्सिलिटिस और टॉन्सिल संक्रमण –खदिरादि वटी टॉन्सिल की जलन, दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है।

यह भी पढ़े –Dabur Active Antacid के फायदे तथा उपयोग -Dabur Active Antacid in Hindi

डाबर खदिरादि वटी की सामग्री – Ingredients Of Dabur Khadiradi Vati

डाबर खदीरदी गुटिका में मौजूद प्रमुख प्रमुख तत्व खदिरा और हरितकी हैं , इनमें से प्रत्येक के स्वास्थ्य लाभ निम्न प्रकार से है –

  • खदिरा (कट्टा) – कैटेचू (बबूल केचू अर्क)
  • जावित्री
  • कंकोल (शीतल चन्नी या कबाब चीनी)
  • काली मिर्च) – पाइपर क्यूबेबा
  • भीमसेनी कपूर – प्राकृतिक कपूर – दालचीनी कैम्फोरा
  • सुपारी – अरेका अखरोट
  • लौंग
  • अदरक
  • पानी

खदीरा -खदीरा को काले कैटेचू के नाम से भी जाना जाता है। इसकी विरोधी गुण के कारण, गले में दर्द को कम करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।
पुष्कर –पुष्कर मे कफ को कम करने के गुण होते है , जिसके कारण यह गले को शांत करता है और खांसी को दूर करने में सहायक होता है।
हरीताकी (हरड़ ) –हरीताकी की शक्ति गर्म होती है, जिसके कारण यह खांसी और सर्दी के उपचार में सहायक है।

डाबर खदिरादि गुटिका की खुराक और कैसे लें -Dabur Khadiradi Gutika Dosage & How to Take

  • डाबर खादिरडी गुटिका को शहद के साथ या गुनगुने पानी के साथ दिन में दो बार लिया जा सकता है।
  • डाबर खादिरादि गुटिका के कोई दुष्प्रभाव नहीं बताए गए हैं किन्तु इस आयुर्वेदिक दवा का उपयोग करने से पहले अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ले।
  • डाबर खादिरडी गुटिका आपको किसी भी मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन मिल जाएगी।
  • बच्चो से दवाओं को दूर रखे।

डाबर खदिरादि गुटिका क्यों -Why Dabur Khadiradi Gutika?

  • यह दवा 100% सुरक्षित और प्राकृतिक है।
  • भोजन निगलने में दर्द कम हो जाता है
  • खांसी और गले में खराश में राहत देता है
  • गले में खराश को कम करता है।

डाबर खदिरादि गुटिका के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न -Frequently asked Questions about Dabur Khadiradi गुटिका

1 ) मुझे डाबर खादिरादि गुटिका का उपयोग कितने समय तक करना चाहिए?
आप डाबर खादिरादि गुटिका का उपयोग तब तक करे जब तक की आपकी स्तिथि मे सुधार न आ जाये।

2 ) क्या डाबर खादिरादि गुटिका गले की खराश को खत्म करने के लिए उपयोगी है।
हां -यह दवा खांसी और गले में खराश में राहत देता है।

3 ) डाबर खादिरादि गुटिका को दिन में कितनी बार लेने की आवश्यकता है?
डाबर खादिरादि गुटिका को दिन में 2 बार लिया जा सकता है।

4 ) क्या डाबर खादिरादि गुटिका का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?
अपने डॉक्टर से इसके बारे में सलाह करें।

5 ) क्या डाबर खादिरादि गुटिका का उपयोग स्तनपान की अवधि के दौरान सुरक्षित है?
इसके बारे में डॉक्टर से ज़रूर पूछें और उनकी सलाह के अनुसार ही निर्णय लें।

विशेष नोट –Dabur Khadiradi Gutika का तथा इस वेबसाइट पर बताये गए किसी भी प्रोडक्ट्स का इस्तमाल अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही करे |Dabur Abhyarishta के फायदे

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट के अंतर्गत मैंने आपको बताया की Dabur Khadiradi Gutika के फायदे तथा उपयोग -Dabur Khadiradi Gutika in Hindi तथा इससे सम्बंधित पूर्णरूप से जानकारी दी है किन्तु फिर भी अगर आपको इसमें कुछ नहीं समझ आता है या इससे रिलेटेड कुछ और डिटेल्स जानना चाहते है तो आप मुझे comment बॉक्स मे जरूर से कमेंट करिये मैं आपके सवालो के जवाब दूंगी और मेरे साथ जुड़े रहने के लिए मेरे , आज के इस पोस्ट को अपनी family और friends के साथ जरूर शेयर कीजिये, और उम्मीद करुँगी की आप मेरा पोस्ट जरूर पढ़ेंगे ।

Sonal Sharma

सोनल Hindiinfo.in की एक अच्छी लेखिका है जिन्हे सेहत , मनोरंजन और घरेलु नुस्खों के बारे में लिखना और पढ़ना पसंद है ।

Recent Posts

Best Crem For Dark Circle Remove Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Best Crem For Dark Circle Remove Review In…

2 weeks ago

How To Remove Dark Circle Review In Hindi -डार्क सर्किल कैसे हटाए

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी How To Remove Dark Circle Review In Hindi…

2 weeks ago

Best Moisturizer For Oily Skin Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Best Moisturizer For Oily Skin Review In Hindi…

3 weeks ago

The Best Moisturizer For Skin Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी The Best Moisturizer For Skin Review In Hindi…

3 weeks ago

Himalaya Tan Removal Orange Face Wash Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya Tan Removal Orange Face Wash Rivew In…

4 weeks ago

Best Skin Fairness Cream Name In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Best Skin Fairness Cream Name In Hindi -आइये…

4 weeks ago

This website uses cookies.