Categories: Aayurvedic Nuskhe

Dabur Trifgol के फायदे तथा उपयोग -Dabur Trifgol review in Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo।in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Dabur Trifgol के फायदे तथा उपयोग -Dabur Trifgol review in Hindi आइये जानते है।

यह भी पढ़े –Dabur Shilajit Gold के फायदे तथा उपयोग -Dabur Shilajit Gold review in Hindi

हेलो फ्रैंड्स आज के इस पोस्ट के अंतर्गत हम बात करेंगे Dabur Trifgol से सम्बंधित की यह आयुर्वेदिक डाबर ट्रिफ़गोल हमारे शरीर से किन -किन बीमारियों को दूर रखने मे सहायक है।Dabur Shilajit Gold जैसा की आप सभी जानते है की मैंने पहले भी बहुत से डाबर के आयुर्वेदिक प्रोडेक्ट के बारे मे मे आपको बता चुकी हूँ ,तो उसी प्रकार से आज मे आपको डाबर ट्रिफ़गोल के बारे मे पूरी डिटेल मे जानकारी दूंगी तो आइये सबसे पहले जानते है की यह डाबर ट्रिफ़गोल क्या है।

यह भी पढ़े –Dabur Vatika Enriched Olive Hair Oil के फायदे तथा उपयोग -Dabur Vatika Enriched Olive Hair Oil review in Hindi

डाबर ट्रिफ़गोल क्या है -What is Dabur Trifgol

डाबर इंडिया द्वारा निर्मित Dabur Trifgol एक आयुर्वेदिक और हर्बल दवा है। डाबर ट्रिफ़गोल एक इफेक्टिव क्लींजर है जो पाचन को सक्रीय बनाने मे सहायता प्रदान करता है और कब्ज जैसी समस्या को कम करता है। यह दवा त्वचा को साफ करके मुँहासे के इलाज मे सहायक है। डाबर ट्रिफ़गोल को इसबगोल और त्रिफला सहित प्राकृतिक अवयवों और औषधीय पौधों का उपयोग करके तैयार किया गया है तथा भारतीय आयुर्वेदिक चिकित्सको के अनुसार यह आंतों की जटिलताओं को ठीक करने में मदद करता है। यह पाचन अंगों के कामकाज में सुधार करता है और Dabur Trifgol हानिकारक रसायनों और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। यह शरीर से अतिरिक्त वसा को हटाने में भी मदद करती है। Dabur Trifgol शुगर और ह्रदय सम्बन्धी बीमारियों को नियंत्रित करने मे सहायक है। इसके आलावा इस गुणों से भरपूर दवा मे कई अन्य स्वास्थ्य लाभ हैं जैसे कि यह विटामिन सी से भरपूर कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।

यह भी पढ़े –Dabur Lal Dant Manjan के फायदे तथा उपयोग -Dabur Lal review in Hindi

डाबर त्रिफगोल के स्वास्थ्य लाभ -Health Benefits Of Dabur Trifgol

  • Dabur Trifgol प्राकर्तिक अवयवों और आयुर्वेदिक जड़ी -बूटियों और पेड़ -पौधो से बानी वह दवा है जो हमारे शरीर को स्वस्थ बनाने मे सहायक है।
  • डाबर त्रिफगोल का सबसे बड़ा लाभ ही यही है की यह हमारे शरीर से बहुत सी बीमारियों को खत्म करने मे सहायक है।
  • प्राकृतिक cleanser और आंत्र नियामक है
  • Dabur त्रिफगोल शरीर से अतिरिक्त वसा को हटाने मे सहायक है
  • पाचन प्रक्रिया और प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देता है
  • यह शरीर से टॉक्सिन ,गन्दगी तथा विषाक्त पदार्थो को बाहर निकालने में मदद करता है
  • त्वचा को सैनिटाइज करके कील -मुंहासों को नियंत्रित करता है।
  • Trifgol कब्ज के लिए एक प्राकृतिक उपचार है।
  • यह दवा पेट के कैंसर के खतरे को कम करता है तथा एनीमिया, थकान, एलर्जी, कब्ज, दस्त, संक्रमण, अपच, नेत्रश्लेष्मलाशोथ, प्रगतिशील मायोपिया, मोतियाबिंद, और त्वचा रोगों सहित सभी नेत्र रोगों को ठीक करने में सहायक है।
  • Trifgol के नियमित सेवन से यह बॉडी क्लींजर का काम करती है ,इससे शरीर स्वस्थ और सकारात्मक रहता है।
  • पाचन तंत्र और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने मे सहायक है।
  • शरीर से विषाक्त अपशिष्ट को खत्म करने में मदद
  • मुंहासे को नियंत्रित करता है।

यह भी पढ़े –Dabur Babool Toothpaste के फायदे तथा उपयोग -Dabur Babool Toothpaste review in Hindi

डाबर त्रिफगोल की सामग्री -Ingredients Of Dabur Trifgol

  • डाबर त्रिफगोल में मौजूद प्रमुख सामग्री निम्न है जिनमे से प्रत्येक के स्वास्थ्य लाभ इस प्रकार हैं –
  • जावा
  • इसबगोल
  • स्वर्ण पितृ
  • अमल्की
  • हरिताका
  • बहेडा / बिभीतकी

1 ) जावा –जावा में रेचक क्रिया होती है जिसके कारण यह कब्ज के उपचार में सहायक है।

2 ) इसबगोल –इसबगोल पेट की समस्याएं और बैक्टीरिया खत्म करने मे सहायक है तथा इसमें एक ईसबगोल की भूसी का बीज होता है जो आंत्र को नियंत्रित करता है। इसका उपयोग अल्सरेटिव कोलाइटिस के उपचार में किया जाता है। इसका हाइपोकोलेस्टेरोलेमिक प्रभाव मल के वजन को बढ़ाता है। Dabur Babool

३ ) स्वर्ण पितृ –स्वर्ण पत्री को सेना के नाम से भी जाना जाता है, इसमें रासायनिक घटक सिनोसाइड ए और बी होते हैं, जो रेचक गुण के पास होता है जो कब्ज के उपचार के लिए उपयोगी होता है।

Related Post

4 ) अमल्की –यह कब्ज, अल्सर, गैस्ट्राइटिस, कोलाइटिस, हेपेटाइटिस और बवासीर को ठीक करने के लिए अच्छा है।अमलाकी (भारतीय करौदा) फाइबर और विटामिन सी से भरपूर होता है जो आंत्र की गति को नियंत्रित करने में मदद करता है, इसलिए, यह कब्ज को कम करता है और गैस्ट्रिक (गैस ) को शरीर से बहार करने में सहायक होता है। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंट जो कोलेस्ट्रॉल कम करता है और क्षतिग्रस्त धमनियों को ठीक करता है। मधुमेह, एनीमिया, बालों का झड़ना, समय से पहले बाल सफ़ेद होना और सामान्य कमजोरी को ठीक करता है।

5 ) हरिताका –हरिताका (टर्मिनलिया चेबुला):मस्तिष्क, तंत्रिका और पाचन तंत्र के लिए बेस्ट दवा है ,और कब्ज और दस्त दोनों के लिए अच्छा है।

6 ) बहेडा / बिभीतकी –यह एक शक्तिशाली कायाकल्प यकृत और हृदय रोग का इलाज करने में अच्छा है। आंखों की रोशनी और बालों के विकास में सुधार करता है।

यह भी पढ़े –Dabur Honitus Cough Syrup के फायदे तथा उपयोग -Dabur Honitus Cough Syrup review in Hindi

डाबर ट्रिफ़गोल की खुराक और कैसे लें -Dabur Trifgol Dosage & How to Take

  • डाबर ट्रिफ़गोल को 1 – 2 चम्मच गुनगुने पानी के साथ यह पाउडर ले।
  • डाबर ट्रिफ़गोल टेबलेट मे भी उपलब्ध है इसे भी रत मे सोने से पहले एक या दो गोली ले ।
  • हालाँकि डाबर ट्रिफ़गोल को लेने से अब तक रोगियों द्वारा डाबर त्रिफगोल के कोई दुष्प्रभाव नहीं बताए गए हैं किन्तु फिर भी आपको निर्धारित खुराक से अधिक नहीं लेना है और इस आयुर्वेदिक दवा का उपयोग करते समय अपने चिकित्सक की सलाह अवश्य ले।
  • डाबर त्रिफगोल का कोई दुष्प्रभाव नही होता है।

डाबर त्रिफगोल क्यों-Why Dabur Trifgol ?

  • प्राकृतिक बॉडी cleanser और आंत्र नियामक
  • शरीर से अतिरिक्त वसा को खत्म करता है
  • पाचन प्रक्रिया और प्रतिरक्षा को बढ़ावा देता है
  • शरीर से टॉक्सिन कचरे और गन्दगी को बाहर निकालने में मदद करता है
  • त्वचा को सैनिटाइज करके मुंहासों को नियंत्रित करता है।

Dabur Trifgol के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न -Frequently asked Questions about Dabur Trifgol

1 ) त्रिफगोल का उपयोग कितने समय तक करना चाहिए?
दो हफ्ते में सुधार आम तौर से आ जाता है किन्तु सभी का शरीर अलग -अलग प्रकार से होता है इसलिए डॉक्टर से सलाह ले।

2 ) डाबर त्रिफगोल को दिन में कितनी बार लेने की आवश्यकता है?
हमारे उपयोगकर्ता ज़्यादातर बताते है की वह डाबर त्रिफगोल खाने के बाद लेते हैं ,परंतु अपनी स्थिति के बारे में डॉक्टर से सलाह और फिर निर्णए लें।

3 ) क्या यह दवा आदत या लत बन सकती है?
नहीं

4 ) क्या डाबर त्रिफगोल का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?
इसके बारे में डॉक्टर से ज़रूर पूछें और उनकी सलाह के अनुसार ही निर्णय लें।

5 ) क्या डाबर त्रिफगोल का उपयोग स्तनपान की अवधि के दौरान सुरक्षित है?
इसके बारे में डॉक्टर से ज़रूर पूछें और उनकी सलाह के अनुसार ही निर्णय लें।

विशेष नोट -Dabur Trifgol तथा इस वेबसाइट पर बताये गए किसी भी प्रोडक्ट्स का इस्तमाल अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही करे |

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट के अंतर्गत मैंने आपको बताया की Dabur Trifgol के फायदे तथा उपयोग -Dabur Trifgol review in Hindi तथा इससे सम्बंधित पूर्णरूप से जानकारी दी है किन्तु फिर भी अगर आपको इसमें कुछ नहीं समझ आता है या इससे रिलेटेड कुछ और डिटेल्स जानना चाहते है तो आप मुझे comment बॉक्स मे जरूर से कमेंट करिये मैं आपके सवालो के जवाब दूंगी और मेरे साथ जुड़े रहने के लिए मेरे , आज के इस पोस्ट को अपनी family और friends के साथ जरूर शेयर कीजिये, और उम्मीद करुँगी की आप मेरा पोस्ट जरूर पढ़ेंगे ।

Sonal Sharma

सोनल Hindiinfo.in की एक अच्छी लेखिका है जिन्हे सेहत , मनोरंजन और घरेलु नुस्खों के बारे में लिखना और पढ़ना पसंद है ।

Recent Posts

Himalaya AyurSlim Capsules Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya AyurSlim Capsules Review In Hindi आइये जानते…

2 days ago

Himalaya Tulasi Tablet Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya Tulasi Tablet Review In Hindi आइये जानते…

3 days ago

Himalaya Foot Care Cream Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya Foot Care Cream Review In Hindi आइये…

5 days ago

Himalaya Ophthacare Eye Drops Review In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Himalaya Ophthacare Eye Drops Review In Hindi आइये…

1 week ago

माइग्रेन के लिए आयुर्वेदिक दवा – Aayurvedic Medicine For Migraine

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी माइग्रेन के लिए आयुर्वेदिक दवा - Aayurvedic Medicine…

1 week ago

Benefits Of Tulsi In Hindi -तुलसी के फायदे तथा उपयोग

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी Benefits Of Tulsi In Hindi -तुलसी के फायदे…

2 weeks ago

This website uses cookies.