Weight loss tips for women in Hindi : महिलाओ के लिए वजन कम करने के तरीके

Weight loss tips for women in Hindi : महिलाये या लड़कियाँ अपने vajan, फिगर और हेल्थ को लेकर पुरुषो के मुकाबले अधिक चिंतित रहती है। लेकिन बहुत सी बार वे अपनी सेहत का ध्यान नहीं रख पाती है और मोटी हो जाती है। और फिर वे अपने फेट को नहीं हटा पाती है और उसे लेकर परेशान होती है। और आज के समय मे motapa सभी के लिए आम बात है तो कही सभी के लिए motapa बहुत बड़ी परेशानी भी है। motapa शरीर की सुंदरता को बिगाड़ देता है और शरीर को बेडौल सा बना देता है। इसलिए महिलाये अपने vajan और मोटापे का बहुत ध्यान रखने के बावजूद भी जब मोटी हो जाती है तो वे बहुत परेशान रहती है और इस कारण बहुत सी महिलाये तो खाना-पीना तक छोड़ देती है या फिर ना के बराबर खाती है। शरीर का इस तरह से ध्यान रखना ये एक बहुत अच्छी आदत है क्योकि motapa बीमारियों का घर है लेकिन जो भी महिलाये या लड़कियाँ खाना छोड़कर खुद को पतला करने की कोशिस करती है तो शरीर के लिए बहुत अधिक नकुसान दायक है और इस तरह से शरीर को पतला करना मतलब शरीर मे बीमारियों को न्यौता देने जैसा है।

weight loss tips for women in Hindi
weight loss tips for women in Hindi

महिलाओ मे मोटापा बढ़ने के कारण (Motapa badhne ka karan)

1) अनियमित महावारी : बिना रुके पीरियड का आना या अनियमित तरीके से ब्लडिंग का होना ये सभी गर्भाशय के आस-पास बहुत अधिक वसा जमा हो जाने के कारण होता है,और गर्भाशय के पास अधिक वसा जमा होने के कारण अधिक जंक फ़ूड का सेवन करना है इससे शरीर की चर्बी और महिलाओ का motapa बढ़ना शुरू हो जाता है।

2) प्रेग्नेन्सी : गर्भावस्था के दौरान महिलाओ को अधिक खाने-पिने के लिए कहा जाता है और उन्हें अधिक घी से बनी चीज़े खिलाई जाती है जिससे उनका vajan बढ़ने लगता है और वे फिर अपने vajan को अगर कंट्रोल नहीं कर पाती तो वो महिलाओ के लिए मोटापे का सबसे बड़ा कारण बनता है।

3) बीमारियाँ : महिलाओ मे अधिक बीमारियाँ लग जाती है जैसे घुटनो मे दर्द, कमर मे दर्द इस तरह की बीमारियाँ जिससे महिलाये अधिक दवाई लेती है और अधिक दवाई के सेवन से भी motapa बढ़ता है।

4) इस तरह के बहुत से ऐसे कारण होते है जिनकी वजह से महिलाये अपना ध्यान रखने के बावजूद भी उनका शरीर फूल जाता है।

5) कुछ महिलाये अधिक समय तक भूखे रहती है जिससे की शरीर पतला नहीं बल्कि अधिक मोटा होता है जिसे की हम बादी का शरीर फूलना कह सकते है ,क्योकि अधिक समय तक भूखे रहने से पेट मे गैस और शरीर मे फुलावट आ जाती है जिससे महिलाओ मे motapa दिखने लगता है।

महिलाओ मे वजन कम करने के तरीके(Vajan kam karne ke tarike )

1) योगा : मोटापे को कम करने के लिए योगा और व्यायाम ये दोनों महत्वपूर्ण भूमिका को निभाते है। अगर आप प्रतिदिन अपनी दिनचर्या मे योग और व्यायाम करते है, तो खास-तौर से महिलाओ का ना तो motapa बढ़ेगा और ना ही शरीर पे दिखने वाली चर्बी जमा होगी किन्तु उसके लिए प्रतिदिन योग और व्यायाम जरुरी है। और महिलाओ मे योग से vajan कम करने वाले योग निम्न है चक्की सञ्चालन, साइकिलिंग, धनुरासन, आश्वाशन और पेट कम करने के लिए अनुलोम-विलोम और कपाल-भाती ये योग है जो महिलाओ को मोटापे से बचा सकते है।

2) मसाज : मसाज बॉडी के लिए एनर्जेटिक थेरपी समान है मसाज से शरीर मे बहुत अधिक आराम मिलता है। मसाज पुरे शरीर के खून को सर्कुलेट करने मे मदद करता है। और इसके साथ ही मसाज motapa भी कम करने मे बहुत मददगार होता है।

3) सूर्य-स्नान : यह motapa कम करने के लिए बहुत ही लाभदायी है। सूर्य स्नान करने से शरीर मे जमा हुआ फैट बाहर निकल जाता है। और इससे केल्सियम d1 ,d2 ,और d3 की पूर्ति होती है। इसलिए ३० मिनट तक सूर्य स्नान प्रतिदिन करना चाहिए ये शरीर का vajan कम करने और शरीर को शक्ति और एनर्जेटिक बनाता है।

4) अधिक पानी का सेवन : महिलाओ मे अक्सर मोटापे मे या तो कमर या पेट ये दोनों शरीर के अंग बहुत अधिक फैल जाते है और इसके लिए महिलाओ को अधिक से अधिक पानी का सेवन करना चाहिए और धुप मे रखा हुआ गुनगुना पानी पिने से पेट की चर्बी बहुत जल्दी कम हो जाती है।

5) नाश्ता करे : महिलाये सुबह के कम या भाग -दौड़ के चक्कर मे सही से नाश्ता नहीं कर पाती
है ,और शरीर मे फुलावट और motapa भूखे रहने की वजह से आता है इसलिए अगर महिलाये मोटापे को कम या अपनी बॉडी को फिट रखना चाहती है तो प्रतिदिन नाश्ता करे और बिना डाइटिंग करे समय पर खाना खाये इससे शरीर शेप मे और फ़ीट रहेगा।

6) जूस का सेवन : जिन महिलाओ का अधिक vajan बढ़ जाता है उन्हें चाय या कॉफ़ी को छोड़कर फ्रूट और जूस का सेवन करना चाहिए क्योकि यही शरीर मे बढे हुए vajan और मोटापे को कंट्रोल करते है और शरीर मे जमी एक्स्ट्रा चर्बी को बर्न करते है।

7) मीठे का सेवन कम : मोटापे को कम करने के लिए मीठे का सेवन कम से कम करे क्योकि अधिक मीठा खाने से शरीर मे motapa तो बढ़ता ही है साथ ही साथ भयंकर बीमारियाँ लगने के चांस भी बन जाते है।

8) प्रोटीन युक्त आहार : महिलाओ को स्पेसली vajan को घटाने के लिए प्रोटीन युक्त आहार का सेवन करना चाहिए ये शरीर के लिए बहुत ही लाभदायी और शरीर का vajan और motapa नियंत्रित रखने मे बहुत मददगार होता है। प्रोटीन युक्त भोजन के सेवन से ये आपकी भूख को कम करता है और बार-बार भूख लगने का एहसास नहीं होने देता।

9) दवाई पर ध्यान दे : महिलाओ को विशेष तौर पर ध्यान रखना चाहिए की वे जो दवाई ले रही है क्या ये उनके शरीर के लिए सही है क्योकि बहुत सी महिलाये गर्भ-निरोधक गोलियों का सेवन करती है। जिससे की motapa बढ़ जाता है। अगर आप मे से कोई भी ऐसी दवाई ले रहे है और अगर शरीर मोटा हो रहा है तो ये इसका साइड इफेक्ट का कारण हो सकता है इसलिए किसी भी दवा को बिना डॉक्टर की सलाह के ना ले।

10) स्तनपान : नवजात शिशु को स्तनपान कराने से महिलाओ का vajan कम होता है खासकर के पेट की चर्बी कम हो जाती है।

महिलाये अपने vajan को कम करने के लिए भूखी ना रहे बल्कि हेल्दी फ़ूड, फ्रूट्स, अधिक पानी-पीना,हेल्दी स्नेक्स,योग इन सभी चीज़ो को अपनी दिनचर्या मे रखे जिससे की शरीर का motapa धीरे-धीरे अपने आप कम होने लगेगा। अगर आपको मेरा ये पोस्ट अच्छा लगे तो कमेंट और शेयर जरूर कीजिये और जो भी महिलाये motapa कम करने के कारण जानना चाहती है तो उनके साथ भी जरूर शेयर कीजिये।

धन्यवाद

Leave a Comment