हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग करना चाहिए – Yoga For Grow Height In Hindi

नमस्कार दोस्तों, Hindiinfo.in के इस के पोस्ट में आज मैं आपको बताऊगी हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग करना चाहिए – Yoga For Grow Height In Hindi आइये जानते है।

यह भी पढ़े – चिया बीज के फायदे, उपयोग और नुकसान -Benefits Of Chia Seed ,Uses And Side Eefect In Hindi

यूं तो हर इंसान अपनी ग्रोथ और जींस के हिसाब से लंबाई पाता है। अच्छी लंबाई से एक तरफ जहां व्यक्तित्व में निखार आता है, साथ ही व्यक्ति का आत्म विश्वास भी बढ़ता है। इसीलिए बच्चे से लेकर बड़े तक सब अच्छी लंबाई के लिए प्रयास करते रहते हैं। चेहरे की सुंदरता ,घने लम्बे बाल और बड़ी -बड़ी आँखे ये सभी आपकी सुंदरता को बढाती है लेकिन सुंदरता के साथ -साथ जरुरी है एक अच्छी Personality का होना यानि की इन सभी चीज़ो के साथ सबसे जरुरी है आपकी अच्छी हाइट का होना क्योकि बॉडी की पर्सनालिटी एक अच्छी हाइट से झलकती है। जिनकी हाइट कम होती है वे अपनी हाइट को थोडा और बढ़ाना चाहते हैं और हाइट की कमी की वजह आत्मविश्वास यानि की बहुत से लोगो मे सेल्फ कॉन्फिडेंस में भी कमी देखी जा सकती है क्योकि उन्हें लगता है की उनकी हाइट की वजह से उनका एक बेहतर इम्प्रेशन नहीं रहेगा जैसा की होना चाहिए। जैसा की आप सभी लोग यह तो जानते ही होंगे की पुलिस, मॉडलिंग तथा सैन्य जैसी सेवाओं में अच्छी हाइट का होना जरुरी हैं ,तभी मेडिकल मे उन्हें फिट माना जाता है। हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग

यह भी पढ़े – नीम जूस के फायदे तथा उपयोग – Benefits Of Neem Juice

हेलो फ्रैंड्स कैसे है आप सभी उम्मीद करती हूँ की अच्छे ही होंगे ,जैसा की आप सभी जानते है मैं मेरे पोस्ट के माध्यम से आपको बहुत से आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स और उनमे समृद्ध प्राकर्तिक अवयवों के बारे मे बताती हूँ तो वैसे ही आज के इस पोस्ट के अंतर्गत हम बात करने वाले है की हम प्राकर्तिक तौर तरीको यानि की जिनकी हाइट कम है ,वे योग तथा कुछ घरेलु नुस्खों से अपनी हाइट को कैसे बढ़ा सकते है। कई बार यह माना जाता है की लम्बाई एक निश्चित उम्र तक ही बढ़ सकती हैं ख़ास तौर से लड़कियों की क्योकि लड़कियों मे पीरियड्स आने के दौरान उनकी हाइट बढ़ना बंद हो जाती है ऐसा कहा जाता है लेकिन इस बात मे कितनी सचाई है यह तो डॉक्टर ही बता सकते है किन्तु मेरा तो मानना है की संतुलित एवं पौष्टिक आहार,व्यायाम एवं योग का नियमित अभ्यास तथा जीवन शैली में सही आदतें अपनाई जायें तो हम अपनी हाइट को बढ़ा सकते है। जैसा की मैं आपको पहले भी बता चुकी हूँ की Personality को निखारने में हाइट का महत्वपूर्ण योगदान होता हैं इसलिए आज के इस पोस्ट के अंतर्गत हम बात करने वाले हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग करना चाहिए – Yoga For Grow Height In Hindi तो आइये जानते है की हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग करना चाहिए लेकिन इससे पहले आप यह भी जान लीजिये की योग क्या है और यह आपके जीवन मे क्या महत्वता रखता है आइये जानते है।

यह भी पढ़े – Benefits Of Tulsi In Hindi -तुलसी के फायदे तथा उपयोग

योग क्या है -What Is Yoga

योग को समझने के लिए हमे इसकी गहरई मे जाना होगा ,योग एक आध्यात्मिक प्रक्रिया है जो शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाने का काम (योग) करता है। हिन्दू धर्म,जैन पन्थ और बौद्ध पन्थ में ध्यान यानि की योग को स्वस्थ जीवन शैली के लिए बहुत अधिक महत्वता दी गई है। योग शब्द भारत से बौद्ध पन्थ के साथ चीन, जापान, तिब्बत, दक्षिण पूर्व एशिया और श्री लंका में भी फैल गया है और इस समय योग से पूरा विश्व परिचित है। आप सभी को यह तो मालूम ही होगा की 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में मनाया जाता है।

‘योग’ शब्द ‘युज समाधौ’ आत्मनेपदी दिवादिगणीय धातु में ‘घं’ प्रत्यय लगाने से बनता है। गीता में श्रीकृष्ण ने एक स्थान पर कहा है ‘योगः कर्मसु कौशलम्‌’ ( कर्मों में कुशलता तथा निपुणता ही योग है।)

योग के मूल रूप से दो अर्थ माने गए हैं, पहला- जुड़ना और दूसरा-समाधि। ‘योग’ शब्द का अर्थ हुआ- समाधि अर्थात् शांत मन और संपूर्ण शरीर का योग मे ध्यानमगन हो जाना और सभी चिंताओं से मुक्त हो जाना होता है जब तक हम स्वयं से नहीं जुड़ पाते, तब तक समाधि के स्तर को प्राप्त करना मुश्किल होता है। यह सिर्फ व्यायाम ही नहीं है बल्कि ‘योग’ संपूर्ण शरीर मस्तिष्क,और आत्मा का एक-दूसरे से मिलन होता है। जीवन को सही प्रकार से जीने का योग एक मार्ग है तथा बहुत से विद्वानों का मानना है की जीवात्मा और परमात्मा के मिल जाने को योग कहते हैं।

  • भीड़ मे खोने से अच्छा है एकांत मे खो जाये ~ओशो
  • यदि शरीर और मन स्वस्थ नहीं है तो जीवन भार बन जाता है तथा योग करने से शरीर और मन स्वस्थ रहता है और योग सभी बीमारियों का इलाज भी है ,योग करे और निरोग रहे -बाबा रामदेव
  • जीवन के हर क्षेत्र मे एक नए स्टार के संतुलन और क्षमता को प्राप्त करना योग है -सद्गुरु

हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग करना चाहिए – Yoga For Grow Height In Hindi

ऐसा कहा जाता है की योग हर बीमारी का हल है तथा शारीरिक रूप से जुडी परेशानियों को हम योग के माध्यम से ठीक कर सकते है ,बहुत से लोगो की यह परेशानी है की उनकी हाइट कम है वे इस प्रॉब्लम को कैसे दूर करे ,तो आज के इस पोस्ट के अंतर्गत मे आपको बताने वाली हूँ की आप योग के माध्यम से अपनी हाइट को कैसे बढ़ा सकते है और हाइट बढ़ाने के लिए कौनसे -कौनसे योग करने चाहिए आइये जानते है।

यह भी पढ़े – हाइट बढ़ाने के लिए बेस्ट एक्सरसाइज – Best Exercises To Increase Height In Hindi

हाइट बढ़ाने के लिए योग –

  • 1 ) ताड़ासन –ताड़ासन सबसे सरल योग मुद्राओं में से एक है जो पर्वत मुद्रा के रूप में भी जाना जाता है। बाबा रामदेव जी का कहना है की ताड़ासन ऐसा व्यायाम है जो अच्छी लंबाई बढ़ाने के लिए एक बहुत ही अच्छा व्यायाम है ,ऐसा माना जाता है किताड़ासन योग से शरीर में पर्याप्त मात्रा मे खिंचाव होता है और रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है। ताड़ासन लंबाई के साथ साथ स्वस्थ शरीर के लिए काफी फायदेमंद है।
  • ताड़ासन योग रीढ़ को सीधा और लंबा करता है।
  • घुटनों और जांघों को मजबूत करता है।
  • इम्प्रोवेस पोस्चर यानि की आपके बॉडी पोस्चर मे सुधार करता है इम्प्रोव करता है।
  • आप इसे कहीं भी, कभी भी कर सकते हैं ,हालांकि, ताड़ासन करने का आदर्श समय सुबह जल्दी उठकर करना होता है।
Yoga Mountain Pose – Tadasana

ताड़ासन करने का तरीका –

  • ताड़ासन करने के लिए समतल जमीन पर दोनों एड़ियों और पंजों मे थोड़े से गैप देकर खड़े हो जाएं विशेष तौर से यह ध्यान रखे की पेरो की गैप ज्यादा ना हो।
  • सीधे खड़े हो जाएं और अपनी भुजाओं को आराम से ढीला छोड़ दें ,फिर दोनों हाथों को कमर की सीधाई की दिशा में ऊपर की ओर रखें और हथेलियों को मिलाएं।
  • यह ध्यान रखे की दोनों हाथों की अंगुलियां भी आपस में मिली होनी चाहिए।
  • यह करते समय ध्यान रखे की कमर सीधी, नजरें सामने की ओर व गर्दन सीधी रखें।
  • दोनों एड़ियों भी ऊपर की ओऱ उठाएं और शरीर का पूरा भार पंजों पर डाल दें।
  • हाथ-पैरों को उठाते हुए पेट अंदर करें।
  • कुछ देर ऐसे ही खड़े रहें और कम से कम 5 बार इसे दोहराये।

2 ) पश्चिमोत्तानासन –पश्चिमोत्तानासन को लगातार करते रहने से शरीर में लचीलापन आ जाता है किन्तु इसे नियमित रूप से रोज करना होता है हालाँकि शुरुआती दिनों मे आपको थोड़ी प्रॉब्लम लगेगी बॉडी मे थोड़ा दर्द भी होगा किन्तु बाद मे आप इसे आसानी से कर पाएंगे। इस आसन को करने से किडनी की समस्या, हड्डियों के दर्द की समस्या से छुटकारा मिलने के साथ यह आपकी हाइट बढ़ाने में मदद करता है।

पश्चिमोत्तानासन कैसे करे –

  • पश्चिमोत्तानासन करने के लिए आप जमीन पर पैर फैलाकर बैठ जाएं ,पेरो मे दूरी न हो और आपके दोनों पैर आपस में चिपके हों और ध्यान रहे की घुटने बिल्कुल सीधे रहें।
  • अब धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए दोनों हाथों को ऊपर उठाएं और फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए आगे कि ओर झुकें और माथे से घुटने को छूटे हुए हाथ को आगे कर पैरों की उंगलियों को पकड़ने की कोशिस करें ,जैसा की मैंने पहले भी कहा की शुरू मे आपको थोड़ी प्रॉब्लम लगेगी लेकिन फिर आप इसे आसानी से कर पाएंगे।
  • कुछ सेंकड इसी मुद्रा में रहे और फिर धीरे -धीरे सीधे हो जाये ,ऐसा करते समय किसी भी तरह की जल्दबाजी न करे इससे आपको कही भी झटका लग सकता है और शारीरिक परेशानी भी हो सकती है।
  • आप इसे भी 5 बार करने की कोशिश करे और ना हो पाए तो कम से कम 3 बार तो करे।

3 ) भुजंगासन – (कोबरा मुद्रा) –भुजंगासन को हम कोबरा मुद्रा इसलिए कह सकते है क्योकि इसकी पोज़ कुछ इस प्रकार से ही होती है। भुजंगासन आपकी पीठ के निचले हिस्से, ऊपरी पीठ और पेट की मांसपेशियों को फैलाता है। यह आपकी कमर के आसपास की खराब चर्बी को कम करने में मदद करता है। यह आपकी हाइट बढ़ाने के लिए सबसे अच्छे योग आसनों में से एक है।

भुजंगासन – (कोबरा मुद्रा) कैसे करे –

  • पेट के बल लेट जाएं और पैरों को आपस में मिला लें। अपने हाथों को अपने कंधे के नीचे रखें।
  • अब दोनों हाथ के सहारे शरीर के कमर से ऊपरी हिस्से को ऊपर की तरफ उठाएं, लेकिन कोहनी आपकी मुड़नी नहीं चाहिए।
  • अब शरीर के बाकी हिस्से को बिना हिलाए-और अपनी गर्दन की मांसपेशियों को जोड़ने के लिए अपने सिर को पीछे की ओर झुकाएं और चेहरे को बिल्कुल ऊपर की ओर देखे की जैसे आप आसमान मे देख रहे हो और जमीन मे हथेली खुली और फैली हो।
  • अब इस मुद्रा मे कुछ देर रहे ,फिर धीरे -धीरे सामान्य स्तिथि मे आ जाये।

4 ) वृक्षासन (वृक्ष मुद्रा) –हर मुद्रा के अनुसार वृक्षासन भी एक ऐसी योग मुद्रा है जो हमारी हाइट बढ़ाने मे काफी हेल्प करेगी। यह मुद्रा पिट्यूटरी ग्रंथि को सक्रिय करती है, यानि की इसे उत्तेजित करती है जो वृद्धि हार्मोन के उत्पादन के लिए जिम्मेदार है।

वृक्षासन (वृक्ष मुद्रा) कैसे करे –

  • वृक्षासन को करने के लिए सबसे पहले समतल जगह पर सीधे खड़े हो जाएं और अपने पैरों को चिपका ले।
  • फिर हाथों की मदद से बाएं पैर को मजबूती से रखें और दाएं पैर की जांघ पर टिका दें , ध्यान रहे शरीर का संतुलन नहीं बिगड़ना चाहिए।
  • अब हाथों को आसमान की तरफ उठाएं और हथेलियों को मिला लें ,जैसे की नमस्कार की मुद्रा बनाते है वैसे ही करे।
  • कुछ सेकंड इस स्थिति में बने रहने की कोशिश करें और शरीर का बैलेंस बना रहे यही कोशिश करे।
  • फिर धीरे -धीरे नार्मल पोजीशन मे आ जाये।

5 ) शीर्षासन –यह आसन सिर के बल किया जाता है इसलिए इसे शीर्षासन कहते हैं। इस आसन को करने से लंबाई के साथ-साथ दिमाग तेज होता है। इसके साथ ही कई बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

शीर्षासन कैसे करे –

  • सबसे पहले वज्रासन मुद्रा में बैठ जाये , नॉर्मल सांस लेते हुए सिर को घुटनों के सामने फर्श पर रखें।
  • अब आगे की ओर झुककर दोनों हाथों की कोहनियों को जमीन पर टिका दें।
  • अंगुलियों को सिर के पीछे से पकड़ें और हाथों से सिर के पिछले भाग को सहारा दें।
  • अब धीरे-धीरे अपने दोनों पैरों को ऊपर उठाएं और एकदम सीधे रखें। पैरों को ऊपर उठाने के लिए आप शुरुआत में दीवार का सहारा ले सकते हैं और इस तरह के आसान शुरुआती दिनों मे योग ट्रेनर के साथ ही करे।
  • आपकी इस स्तिथि मे आपका शरीर बिल्कुल सीधा होना चाहिए और मुख्यतः यह ध्यान रहे की शरीर का संतुलन बना रहे।
  • 15- 20 सेकेंड तक गहरी सांस लें और जितनी देर हो सके इसी मुद्रा में रहें ,यह योग आपकी सर दर्द ,तेज़ माइग्रेन की समस्या को भी दूर करने मे सहायक है।
  • अब धीरे-धीरे सांस छोड़ें और और पैरों धीरे-धीरे नीचे जमीन पर वापस लाएं और नार्मल स्तिथि मे आ जाये।

6 ) ) त्रिकोणासन (त्रिकोण मुद्रा) -(Triangle Pose) त्रिकोणासन या त्रिभुज मुद्रा टखनों, घुटनों, बाहों, पैरों और छाती को मजबूत करती है। यह छाती, कूल्हों को खोलता है और भुजाओ की मांसपेशियों और हैमस्ट्रिंग यानि की नसों को फैलाता है। यह रीढ़ की हड्डी की स्तिथि मे सुधार करने में भी मदद करता है। त्रिकोणासन का नियमित रूप से अभ्यास करने से मुद्रा और शारीरिक संतुलन में सुधार होता है। यह स्वाभाविक रूप से हाइट बढ़ाने के लिए सबसे अच्छे योग अभ्यासों में से एक है क्योंकि यह पीठ को मजबूत करता है और रीढ़ की हड्डी में लचीलापन लाता है जिससे हाइट में वृद्धि होती है।

त्रिकासन (त्रिकोण मुद्रा) करने का तरीका –

  • सबसे पहले समतल स्थान पर सीधे खड़े हो जाये और फिर अपने पैरों को चौड़ा करके सीधे खड़े रहे।
  • अब धीरे-धीरे झुकते हुए सीधे हाथ से उलटे पैर को छुएं और दूसरा हाथ ऊपर की ओर ले जाएं।
  • इस स्तिथि में कुछ देर रुककर ऊपर की ओर देखने की कोशिश करें।
  • अब यही स्तिथि को विपरीत भी यानि की उलटे हाथ से सीधे पैर को छुए ,आप इसे नियमित रूप से करेंगे तो आपकी बॉडी बहुत अधिक स्ट्रेचेबल हो जाएगी।
  • अब अपनी सामान्य स्तिथि मे आ जाये।

7 ) अधोमुख श्वानासन -अधोमुख श्वानासन को डाउनवर्ड फेसिंग डॉग पोज भी कहा जाता है। यह योग रक्त का प्रवाह बढ़ा कर यानि की ब्लड सर्क्युलेशन को फ़ास्ट करता है और तंत्रिका तंत्र को मजबूत करता है और रीढ़ की हड्डी में कोमलता प्रदान करता है। अधोमुख श्वानासन से मांसपेशियों में मजबूती आती है। साइनस की समस्या दूर होती है। शरीर को अच्छा खिचाव मिलता है।

अधोमुख श्वानासन कैसे करे –

  • सबसे पहले सीधे खड़े हों और दोनों पैरों के बिच छोड़ा दूरी रखें।
  • अब धीरे से नीचे की ओर झुके जिससे की पेरो मे V जैसे Shape बनेगा ,ध्यान रखें दोनों हाथों और पैरों के बीच में थोड़ी दुरी होनी चाहिए ।
  • रीढ़ की हड्डी सीधी रखते हुए शरीर के ऊपरी हिस्से को ऊपर की ओर खींचें।
  • इस स्तिथि मे आप 30 सेकंड तक रहे और नार्मल स्तिथि मे आ जाये।

8 ) चक्रासन –चक्रासन इसे व्हील पोज भी कहा जाता है क्योकि इस आसन में शरीर का आकार पहिये के समान ,एक चक्र के समान हो जाता है। इस आसन को नियमित करने से रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है. तथा लचीली भी होती है ,शरीर के अंग जैसे कमर, पेट, हाथ, पैर, घुटने और हड्डिया मजबूत बनते है. मोटापा और चर्बी घटती है और शरीर की लम्बाई बढती है।

चक्रासन कैसे करे –

  • सबसे पहले जमीन पर चटाई या आसन बिछाकर बैठ जाए।
  • उसके बाद आराम से पीठ के बल लेटे।
  • पैरों में 1 या डेढ़ फिट का अंतर लेकर, पैरों को घुटनो से मोड़कर ,पैर के तलवों को जमीन पर लगा कर रखे।
  • दोनों हाथों को अपने कंधों के पास ले जाकर ,हाथों को जमीन पर इस प्रकार से रखे की हाथों की उंगलिया आपके पैरों की दिशा में हो।
  • हाथों और पैरों के सहारे अपने शरीर के बिच का हिस्सा (पेट और छाती ) को ऊपर उठाये।
  • इस अवस्था मे आप जब तक रह सके रहे ,तथा साथ ही शरीर का संतुलन पूर्णरूप से बना रहे यह ध्यान रखे।

9 ) हलासन –हलासन को अंग्रेजी भाषा में Halasana और प्लो पोज़ ( Plow Pose ) भी कहा जाता है। अन्य योगासनों की तरह ही हलासन को भी उसका नाम खेती में उपयोग किए जाने वाले एक उपकरण से ही मिला है। जमीन जोतने वाले इस हल का उपयोग भारत और तिब्बत में बहुतायत से किया जाता रहा है। इस आसन को ये नाम किसान के हल के समान आकृति होने के कारण मिला है, जो मिट्टी को खेती से पहले खोदने के काम आता है। इस आसन को करने से वजन कम होता है, शरीर को मजबूती मिलती है।

हलासन करने का तरीका आप इमेज मे देख सकते है –

10 ) मार्जरी आसन (कैट पोज़ ) -मार्जरी आसन को अंग्रेजी में कैट पोज़ (Cat pose) के नाम से भी जाना है और इस योग को हाइट बढ़ाने की लिस्ट मे ऐड किया जा सकता है। इस आसन को करने से रीढ़ और पीठ की मांसपेशियों का लचीलापन बना रहता है। मार्जरी आसन एक आगे की ओर झुकने और पीछे मुड़ने वाला योग आसन है।

मार्जरी आसन (कैट पोज़ ) करने का तरीका आप इमेज मे देख सकते है।

हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग करना चाहिए के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न -Frequently asked Questions about Yoga For Grow Height In Hindi

  • 1 ) कौन से योग करने से हाइट बढ़ती है?
  • हाइट बढ़ाने के लिए बेस्ट 5 योग
  • ताड़ासन महत्वपूर्ण आसन
  • हलासन
  • भुजंगासन
  • पश्चिमोत्तानासन
  • सर्वंगासन

2 ) क्या चक्रासन से हाइट बढ़ती है?
चक्रासन इस आसन में व्यक्ति की आकृति बिल्कुल चक्र की तरह होती है। इस आसन को करने से हड्डियां लचीली होने के साथ-साथ हाइट बढ़ाने में मदद करती है।

  • 3 ) जल्दी हाइट कैसे बढ़ाएं?
  • लम्बाई कैसे बढ़ाये
  • हाइट बढ़ाने के लिए पर्याप्त मात्रा में नीदं ले
  • हाइट बढ़ाने के लिए रोजाना एक्सरसाइज करे
  • हाइट बढ़ाने के लिए रोजाना खेल खेले
  • हाइट बढ़ाने के लिए पोस्टिक भोजन खाए
  • हाइट बढ़ाने के लिए हमेशा सीधा बैठे
  • हाइट बढ़ाने के लिए प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये ( इम्युनिटी पावर को मजबूत बनाये )

4 ) ताड़ासन कब करना चाहिए?
ताड़ासन इस आसन को रोजाना दिन में 10-12 बार करने से फायदा मिलेगा। इसके लिए जमीन पर आसन बिछा कर दोनों पैरों को आपस में मिला कर खड़े हो जाएं और दोनों हाथ बगल में रख कर अपने शरीर का वजन सामान रखें। इसके बाद दोनों हथेलियों की अंगुलियों को मिलाकर सिर के ऊपर तक धीरे-धीरे ले जाएं, लेकिन हाथों को बिल्कुल सीधा रखें।

5 ) शरीर की लंबाई बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए?
पत्तेदार सब्जियां- पालक, केल, अरुगुला, बंदगोभी जैसी पत्तेदार सब्जियों में भी कई तरह के पोषक तत्व होते हैं. इन सब्जियों में विटामिन-सी, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम और पोटैशियम के अलावा विटामिन-के भी पाया जाता है जो हड्डियों के घनत्व को बढ़ाकर लंबाई बढ़ाने का काम करता है।

विशेष नोट –यह योग करने वाला व्यक्ति ही बेहतर तरीके से समझ सकता है कि मानव जीवन में योग किसी चमत्कार से कम नहीं है किन्तु एक दूसरे के कहने पर या कहीं पढ़कर किसी भी प्रकार की उल्टी-सीधी योग ना करे इससे आपको शारीरिक परेशानी हो सकती है। आपको योग से बेहतर फायदा तब ही मिल सकता है जब आप शुरुआती समय मे योग को योगा ट्रेनर के अंडर मे रहकर करे।

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट के अंतर्गत मैंने आपको बताया की हाइट बढ़ाने के लिए कौनसा योग करना चाहिए – Yoga For Grow Height In Hindi तथा इससे सम्बंधित पूर्णरूप से जानकारी दी है किन्तु फिर भी अगर आपको इसमें कुछ नहीं समझ आता है या इससे रिलेटेड कुछ और डिटेल्स जानना चाहते है तो आप मुझे comment बॉक्स मे जरूर से कमेंट करिये मैं आपके सवालो के जवाब दूंगी और मेरे साथ जुड़े रहने के लिए मेरे , आज के इस पोस्ट को अपनी family और friends के साथ जरूर शेयर कीजिये, और उम्मीद करुँगी की आप मेरा पोस्ट जरूर पढ़ेंगे ।

Leave a Comment